ये पौधे मांस खाते हैं : क्या आपको यह पता है?

वीनस फ्लाईट्रैप (डायोनिया मस्किपुला): यह प्रसिद्ध उपभक्षी पौधा है जिनके हिंजड़े एक्सिटोन पर कीचड़ी होती है, जो कीटों के संकेत पर बंद हो जाते हैं और उन्हें पचाने लगते हैं। 

पिचर प्लांट (सारसीनिया जाति): पिचर प्लांट के परिवर्तित पत्तियाँ गहरे ट्यूबलर संरचनाएँ बनाती हैं जिनमें पाचक एन्जाइम से भरपूर होता है, जो कीटों को आकर्षित करके खा जाते हैं। 

बटरवर्ट (पिंगुइकुला जाति): बटरवर्ट्स चिपचिपे पत्ते उत्पन्न करते हैं जो छोटे कीटों को फंसाते हैं। पौधा फिर इनको पचाने के लिए एन्जाइम का उपयोग करता है। 

वॉटरव्हील प्लांट (आल्ड्रोवांडा वेसिक्युलोसा): यह जलीय उपभक्षी पौधा बहुत संवेदनशील, हिंजड़े जाल बनाता है जो छोटे जलजीवों को पकड़ लेते हैं और खा जाते हैं। 

संड्यू प्लांट (ड्रोसेरा जाति): संड्यू प्लांट्स के पत्तों पर ग्रंथिकारी बाल होते हैं जो एक चिपचिपी पदार्थ छोड़ते हैं। कीट इस चिपचिपापन में फंस जाते हैं और आखिरकार पौधे द्वारा पचाये जाते हैं। 

ब्लैडरवर्ट (यूट्रिक्युलरिया जाति): ये जलमग्न पौधे ब्लैडर की तरह की अंगड़ा निर्मित करते हैं जो ट्रिगर होने पर एक वैक्यूम बनाते हैं, छोटे जलजीवों को अपनी भीतर खींच लेते हैं और उन्हें पकड़ लेते हैं। 

कोबरा प्लांट (डार्लिंगटोनिया कैलीफोर्निका): यह पौधा यूके में पूर्वानुकूलन में पाया जाता है, लेकिन यहाँ का प्राकृतिक नहीं है। इसमें एक कोबरा के सिर की तरह की हुड़ाई संरचना होती है जो कीटों को अपनी झालर में खींच आती है। 

पर्पल पिचर प्लांट (सारसीनिया पर्पुरिया): पिचर प्लांट का एक उपजाति, पर्पल पिचर प्लांट अपनी ट्यूबलर पत्तियों में कीटों को पकड़ लेती है। 

ड्यूवी पाइन (ड्रोसोफिलम ल्यूसिटैनिकम): हालांकि यह यूके का प्राकृतिक नहीं है, कभी-कभी वहां उगाया जाता है। इसके चिपचिपे पत्ते कीटों को पकड़ लेते हैं और पचाते हैं। 

थ्रेड-लीव्ड संड्यू (ड्रोसेरा फिलिफॉर्मिस): यह संड्यू जाति का पौधा लंबे, धागे की तरह की पत्तियों वाला होता है, जो छोटे कीटों को पकड़ लेते हैं और पचाते हैं।